राजधानी समेत प्रदेश के सभी सरकारी अस्पतालों में मरीजों का बुखार और ब्लड प्रेशर अब डिजिटल थर्मामीटर डिजिटल ब्लड प्रेशर मशीन से मापा जाएगा। स्वास्थ्य विभाग सभी सरकारी अस्पतालों के लिए इलेक्ट्रॉनिक थर्मामीटर और ब्लड प्रेशर मशीनों की खरीदी करेगा। साथ ही मर्करी वाले थर्मामीटर और ब्लड प्रेशर मशीनों का चलन अस्पतालों में बंद कराया जाएगा। स्वास्थ्य विभाग ने यह निर्णय प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड की अनुशंसा पर लिया है। 

सीएमएचओ डॉ. पंकज शुक्ला के मुताबिक अस्पतालों का पैरामेडिकल स्टाफ मर्करी वाली ब्लड प्रेशर मशीन से मरीजों का ब्लड प्रेशर सटीक नहीं माप पा रहा था। इसकी शिकायतें स्वास्थ्य संचालनालय के अधिकारियों को मिल रही थी। इसके लिए पैरामेडिकल स्टाफ को हॉस्पिटल स्तर पर थर्मामीटर और ब्लड प्रेशर मशीन, ऑपरेट करने की ट्रेनिंग भी दी जा रही थी। मध्यप्रदेश प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड ने सरकार को मर्करी थर्मामीटर और ब्लड प्रेशर मशीन में उपयोग होने वाली मर्करी से भूजल, मिट्टी और खाद्य पदार्थों के प्रदूषित होने की रिपोर्ट दी थी। इस कारण प्रमुख सचिव स्वास्थ्य ने सभी सरकारी अस्पतालों में मरीजों की जांच के लिए डिजिटल थर्मामीटर और ब्लड प्रेशर मशीन का उपयोग करने के निर्देश दिए हैं। 


Source: Dainik Bhasker (Dated 07 Sep 2014)